‘मैं चुनाव जीत गया’, ट्रंप ने स्‍वीकारी बाइडेन की जीत लेकिन नहीं मानी अपनी हार, फिर पलटी मार

पहले हार मानी, फिर बाद में पलटी मार गए ट्रंप, बोले व्हाइट हाउस नहीं छोडूंगा US इलेक्शन में जीत मेरी हुई

वाशिंगटन: अमेरिका के राष्ट्रपति चुनाव (US Election 2020) में पूरी तरह साफ हो चुका है कि अब डेमोक्रेटिक पार्टी के जो बाइडेन (Joe Biden) सत्ता संभालेंगे, लेकिन बाइडन की जीत के बाद अब डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) ने एक और ट्वीट करके बवा’ल खड़ा कर दिया है. रविवार को ट्रंप ने बेमन से अपनी हार को स्वीकार करते हुए लिया था. जो बिडेन ही व्हाइट हाउस की दौड़ जीती है. लेकिन अब उन्होंने नए ट्वीट में राष्ट्रपति चुनाव में खुद की जीत का दावा किया है।

डोनाल्ड ट्रम्प ने सोमवार को एक बार फिर ट्वीट कर कहा- “आई वॉन द चुनाव!” (I WON THE ELECTION) ट्रम्प अब भी अपनी जीत का दावा कर रहे हैं. जबकि 16 घंटे पहले ही डोनाल्ड ट्रम्प जो बाइडेन के जीतने की बात कबूली थी हालांकि, ट्रम्प ने यह भी कहा था कि इस चुनाव में हेराफेरी की वजह से जो बाइडेन को जीत मिली है।

TRAMP

आपको बता दें डोनाल्ड ट्रम्प ने रविवार को दूसरे ट्वीट कर अपनी हार मानते हुए इलेक्शन सिस्टम पर कई सवाल उठाए थे उन्होंने कहा कि जो बाइडेन को जीत सिर्फ फेक मीडिया की नजर में मिली है, लकिन हमारी लड़ा’ई लंबी है. और आखिर में हम ही जीतेंगे। ट्विटर ने ट्रम्प के इन ट्वीट्स को वि’वा’दित कैटेगरी में रखा है।

गौरतलब है की, मिशिगन, विस्कॉन्सिन और पेन्सिलवेनिया: मिडवेस्टर्न के मैदान की ति’क’ड़ी जीतकर जो बिडेन ने डोनाल्ड ट्रम्प को हराया और राष्ट्रपति पद हासिल करने के लिए 270 इलेक्टोरल वोट थ्रेसहोल्ड में शीर्ष पर रहे। वही ट्रम्प के 72.three मिलियन के मुकाबले बिडेन के पास अब तक 77.5 मिलियन वोट हैं।

आपको बता दें ट्रम्प कैम्पेन ने मिशिगन और पेनसिल्वेनिया जैसे बड़े राज्यों में चुनाव नतीजों को र’द्द कराने के लिए केस दायर किए हैं, ज्यादातर जगह उन्हें हार ही मिली है। एरिजोना में तो उन्होंने केस ही वापस ले लिया। इस राज्य में 24 साल बाद डेमोक्रेटिक पार्टी को तगड़ी जीत मिली है।

न्यूयॉर्क टाइम्स के मुताबिक, फ़िलहाल अमेरिका में सत्ता के ट्रांसफर को लेकर कुछ तय नहीं हो पा रहा है। ट्रम्प प्रशासन ने अब तक जो बाइडेन की टीम को सुविधाएं देने या कुछ भी देने से इनकार कर दिया है। ट्रम्प ने अब तक यह संकेत नहीं दिया है कि वे बाइडेन को सत्ता देने में सहयोग करेंगे या फिर कई राज्यों में किये गए मुकदमों को वापस लेंगे।