Unlock 5.0: धार्मिक और राजनीतिक कार्यक्रमों समेत 10 पॉइंट में पढ़ें कि क्या-क्या खुला

Unlock 5.0: धार्मिक और राजनीतिक कार्यक्रमों समेत 10 पॉइंट में पढ़ें कि क्या-क्या खुला

कोरोना वायरस के रोकथाम के लिए लागू किये गए लॉकडाउन में अब ढील की प्रक्रिया चल रही हैं. हालांकि अनलॉक की प्रक्रिया ऐसे वक्त में चल रही है जहां कोरोना वायरस के मामले बड़ी तादात में सामने आ रहे हैं. अनलॉक की कड़ी में अब तक सरकार 4 पर अनलॉक करके दिशानिर्देशों में लगी करीब सारी पाबंदियां ह’टा चुकी हैं लेकिन सिनेमा हाल, मल्टीप्लेक्स , स्विमिंग पूल जैसे कुछ जगह अभी भी बंद हैं.

जिन्हें अब केंद्रीय गृह मंत्रालय अनलॉक 5 के तहत खोलने जा रहा हैं. इसके साथ ही अनलॉक 5.0 के बाद लगभग सारी पाबंदियां समाप्त हो गई है. इसके साथ ही गृह मंत्रालय ने ट्रैवल से जुड़े कुछ दिशानिर्देश भी जारी किये है. ऐसे में अगर आप कुछ दिनों में कहीं यात्रा का प्लान बना रहे हैं तो आपको इन्हें ध्यान में रखना होगा.

केंद्र गृह मंत्रालय ने ट्रेवल के लिए 4 महत्वपूर्ण गाइडलाइन जारी की हैं. यात्रा के लिए जाने वाले सभी लोगों को इनका पालन करना हैं जिससे आप सुरक्षित रह सके. यह इस तरह है-

  • अनलॉक 5.0 के तहत केंद्रीय गृह मंत्रालय ने अंतर्राष्ट्रीय उड़ानों को अनुमति नहीं दी है. अंतर्राष्ट्रीय उड़ानें पर फ़िलहाल 31 अक्टूबर तक प्रतिबंधित लागू रहेगा. हालांकि इस दौरान सिर्फ वहीं लोग अंतर्राष्ट्रीय उड़ान भर पाएंगे जिन्हें गृह मंत्रालय से अनुमति दी जाएगी. यानि गृह मंत्रालय की अनुमति के बाद ही अंतर्राष्ट्रीय उड़ान भारी जा सकेगी.
  • इसके साथ ही भारत के किसी भी राज्य को केंद्र सरकार से अनुमति या सलाह लिए बिना अब कॅन्टोन्मेंट जोन से बाहर लॉकडाउन लागू करने का अधिकारी नहीं होगा. गृह मंत्रालय ने एक बार फिर से दोहराया है कि राज्य सरकारें केंद्र सरकार से चर्चा किये बिना कॅन्टोन्मेंट जोन के बाहर कोई स्थानीय लॉकडाउन लागू नहीं कर सकती है.
  •  अनलॉक 5.0 के दिशानिर्देशों के अनुसार 1 अक्टूबर से व्यक्तियों एवं वस्तुओं की अंतर्राज्यीय एवं राज्य के भीतर आवाजाही पर किसी भी तरह का कोई भी प्रतिबंध नहीं होगा.
  • इसके साथ ही एक राज्य से दूसरे राज्य जाने के लिए अब अलग से किसी भी तरह की अनुमति/अनुमोदन/ई-परमिट की आवश्यकता नहीं होगी.

इसके साथ ही अब 15 अक्टूबर से सिनेमाघरों में भी रौनक लौट आएगी. गृह मंत्रालय के अनुसार 15 अक्टूबर से सिनेमाघरों और मल्टीप्लेक्सों को खोलने की अनुमति होगी, हालांकि वो उनकी बैठने की क्षमता के 50 प्रतिशत के साथ खोले जाएगें.

इसके साथ ही राज्यों और केन्द्र शासित प्रदेशों की सरकारों को छुट दी गई है कि वो अपने स्तर पर चरणबद्ध तरीके से 15 अक्टूबर के बाद स्कूलों और कोचिंग संस्थानों को फिर से खोलने के निर्णय ले सकते हैं.

साभार- जनसत्ता