VIDEO: एसटीएफ से पूछताछ में विकास दुबे ने लिया थे दो बीजेपी विधायकों के नाम, वायरल हुआ 2017 का वीडियो

यूपी के कानपुर में शू’टआउट के दौरान 8 पुलिस वालों की ह’त्या करने के बाद से ही फरार गैं’गस्ट’र विकास दुबे अब तक पुलिस के हाथ नहीं लगा. लेकिन उसे लेकर लगातार कई चौंकाने वाले खुलासे हो रहे है. इसी बीच साल 2017 का एक वीडियो सामने आने के बाद ह’डकं’प मच गया है, यह वीडियो एसटीएफ जांच का है, जिसमें विकास दुबे दो बीजेपी विधायकों भगवती प्रसाद सागर और अभिजीत सिंह सांगा का नाम लेते हुए नजर आ रहा है.

दरअसल जिला पंचायत चुनाव के दौरान एक शख्स की ह#त्या का आरोप विकास दुबे पर लगा था. विकास पर इस शख्स की ह#त्या का ष’ड्यंं’त्र रचने का आरोप लगे थे.  जिसके बाद विकास से इस मामले को लेकर पूछताछ की गई थी. इसी पूछताछ का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है.

वीडियो में विकास से सवाल किया गया कि ये थाने में जो तुम्हारी एफिडेविट पड़ रही है तो क्या उसके लिए तुम पर किसी ने कोई दबाव बनाया था? जिस पर विकास ने कहा कि दबाव तो कोई नहीं था, लेकिन अपनी कोशिश किया था, अपने लोकल नेता ने, हमारे यहां के प्रबु’द्ध लोग हैं, उन्होंने ने ही किया था.

जिस पर उससे पूछा गया कि वो लोग कौन-कौन हैं? तब विकास ने कहा कि हमारे स्थानीय विधायक साहब, भगवती प्रसाद सागर जी और अभिजीत सिंह सांगा जी हैं. विधायक और हमारे ब्लॉ’क के प्रमुख हैं, राजेश कमल और जिला पंचायत के अध्यक्ष और 3-4 प्रधान लोग भी हैं.

 

फिर एसटीएफ की टीम ने सवाल कि इन लोगों ने तुम्हे क्या ड’रा’या ध’मका’या? जिस पर विकास ने कहा कि मुझे ड’राया ध’मकाया नहीं गया, इन लोगों ने मुझे समझाया था कि देखो अगर ये नहीं हैं और वो फर्जी है तो उनकी मदद करो, अगर दोषी है तो कोई बात नहीं लेकिन ये फर्जी हैं इसलिए इनके लिए जो हिसाब करना था उनको वो किया.

वहीं बीजेपी विधायकों ने अपने ऊपर लगने वाले आरोप को किया खारिज किया है. वीडियो सामने आने के बाद विकास दुबे के साथ अपने रिश्तों पर चल रही चर्चा को बीजेपी विधायक भगवती सागर ने सिरे से ख़ा’रिज कर दिया है.

आजतक से बात करते हुए सागर ने कहा कि विकास दुबे बड़ा अ’परा’धी है और वो अपने बचाव के लिए सत्ताधा’री पार्टी के किसी भी नेता या जनप्रतिनिधि का नाम ले सकता है. सागर की तरह ही बीजेपी विधायक अभिजीत सिंह सांगा ने भी विकास दुबे के साथ अपने कनेक्शन की खबरों को ख़ारिज करते हुए उसके खिलाफ मुकदमा दायर करने की बात कही.

साभार- आजतक