लॉक डाउन में नहीं मिला सैनिटरी पैड्स, तो लड़कियों ने उठाया ऐसा कदम, सरकार हैरान, मुख्यमंत्री..

कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए देश में 3 मई तक लॉकडाउन को बढाने का फैसला किया है. लॉकडाउन के कारण लोगों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है. खास कर उन महिलाओं को जो अपने घरों में बंद है. लॉकडाउन में आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति के लिए किराना स्टोर और मेडिकल स्टोर खुले हुए हैं. लेकिन दूर-दराज़ के गांवों में महिलाओं और लड़कियों को प्रतिमाह इस्तेमाल होने वाली सबसे जरूरी सेनेटरी पैड की सुविधाएं उनतक नहीं पहुंच पा रही हैं।

बता दें लड़कियों को प्रतिमाह इस्तेमाल होने वाली महत्वपूर्ण चीजें हैं सेनेटरी पैड्स हालांकि शहरों में ऐसी दिक्कत नहीं हो रही है. लेकिन शहर से दुर दराज के गांवों में लड़कियां तक ये सुविधाएं नहीं पहुंच पा रही है खास कर ग्रामीण इलाकों में लड़कियां इन सारी दिक्कतों से जुझ रही है. इन लड़किया मुख्यमंत्री को पात्र लिखकर मदद मागं रही है।

राजस्थान की लड़कियों ने इस संबंध में मुख्यमंत्री को पत्र लिख कर मांग की सेनेटरी पैड्स मुहैया कराया जाए। राज्स्थान की लड़कियों ने जहां मुख्यमंत्री को पत्र लिखा तो झारखंड में लड़कियां स्वयंसेवी संस्थाओं को फोन करके सेनेटरी पैड्स की मांग रही है।

मध्य प्रदेश, राजस्थान, बिहार और झारखंड की कई लड़कीयां में समस्या झेल रही है इतना ही नहीं उनके लिए इस बारे में खुल कर बात करना भी उतना उचित नहीं है. हलाकि इन गांवों की लड़कियों को स्कूल से हर महीने सेनेटरी पैड्स मिलते थे. लेकिन लाकडाउन के कारण स्कुल बंद है जिस कारण इन्हें यह सुविधाएं नहीं मिल पा रही है।

मुख्यमंत्री को लिखी चिट्ठी

वही दूसरी और बाजार दुर होने से और लाकडाउन के चलते परिवहन बदं होने के कारण वो ना तो बाजार और ना ही मेडिकल स्टोर पहुंच पा रही है. वही इसी समस्या को लेकर मध्य प्रदेश के कटनी की रहने वाली महिला पत्रकार वंदना तिवारी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री को पत्र लिख कर इन गरीब महिलाओं के प्रति चिंता जाहिर की है।

महिला पत्रकार वंदना तिवारी ने शहर से दूर-दराज़ के गांवों में रह रही लड़कियों व महिलाओं को लेकर चिंता जताते हुए सेनेटरी पैड की मांग की है ताकि सभी महिलाएं अपने आपको को सुरक्षित रख सकें और कोरोना वायरस जैसे खतरनाक बीमारी के साथ अन्य बीमारियों से खुद का बचाव कर सके।

बिहार में रहने वाली शुभम

वंदना तिवारी ने प्रधानमंत्री मोदी और मुख्यमंत्री को पत्र लिख उनसे विनम्र अनुरोध किया है कि आप हर एक बहन बेटियों के बारे में भी इस विषय पर सोचे माननीय मैं एक पत्रकार होने से पहले मैं एक महिला हूं.

इसलिए में यह विषय आपके संज्ञान लाना चाहती हूँ लॉकडाउन होने के कारण किराना दुकानों में किराना तो उपलब्ध है लेकिन महिलाओं के लिए प्रतिमाह इस्तेमाल होने वाले सबसे जरूरी सेनेटरी पैड उपलब्ध नहीं हैं इसलिए हमारे देश की सभी महिलाओं की मदद करें।

Leave a Comment