कोरोना संकट के बीच यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ ने दी राहत भरी खबर, बताया- कब तक कोरोना पर कर लेंगे काबू

कोरोना वायरस के चलते दुनिया भर में तालाबंदी की स्थति बनी हुई है. भारत में भी कई समय से लॉकडाउन लगाया गया है जिसके चलते लोग अपने घरों में बंद हो कर रहने को मजबूर हो गए है. इसके चलते काम-धंधों पर काफी नुकसान देखने को मिल रहा है जो गिरती हुई भारतीय अर्थव्यवस्था को और तेजी से गिरा रहा है. ऐसे में लोगों को जल्द से जल्द कोरोना वायरस और  इस लॉकडाउन से राहत चाहिए. लेकिन लोगों को फ़िलहाल इससे राहत मिलती नजर नहीं आ रही है.

इसी बीच एक राहत भरा दावा उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ ने किया है. योगी आदित्यनाथ कोरोना वायरस और लॉकडाउन संकट से निपटने में जोर-शोर से जुटे उए है. बताया जा रहा है कि वह रोज सुबह टीम 11 के साथ इस मामले को लेकर मीटिंग करते है और आला-अधिकारीयों और मंत्रियों से कोरोना को लेकर बातचीत करते है.

इसी बीच सीएम योगी ने कोरोना संक्रमण काल सजगता से सफलता शीर्षक से आयोजित कार्यक्रम के दौरान वेबनियर के जरिए कहा कि कोरोना संकट से जल्द राहत मिलने वाली है उन्होंने कहा कि हम कोरोना को जून तक काफी हद तक नियंत्रित कर लेंगे. इसके लिए मैं और मेरी टीम पूरी ताकत से जुटी हुई हैं.

सीएम ने कहा कि हमारे यहां के श्रमिकों में कोरोना संक्रमण से जूझने की क्षमता है. वह काफी मेहनत करके पसीना बहाते है जिससे सक्रंमित होने के बाद भी छह सात दिन में कोरोना निगेटिव में आता है. जो लोग कामगारों के हित में नारेबाजी करते रहते है आगा उन्होंने चिंता की होती तो यह महापलायन रोका जा सकता था.

उन्होंने बताया कि अभी तक 22 लाख कामगार यूपी में आ चुके हैं. हमारी सरकार सबका सम्मान के साथ ध्यान रखने में लगी हुई है. वहीं इसी दौरान राज्य कर्मचारियों के भत्तों के खत्म करने से चुनाव में नुकसान की संभावना को लेकर सवाल किया गया तो उन्होंने कहा कि वह हार जीत के उद्देश्य से फैसला नही लेते है, वह लोकमंगल की भावना के साथ काम करते हैं.

आपको बता दें कि उत्तर प्रदेश में तेजी से कोरोना संक्रमित मरीजों की तादात बढती जा रही है. पिछले 24 घंटे के दौरान सूबे में 254 कोरोना केस सामने आए है जिसमें से अकेले नोएडा में 17 कोरोना पॉजिटिव मामले पाए गए हैं.

अभी तक की बात की जाए तो यूपी में 6268 कोरोना पॉजिटिव मरीज सामने आ चुके है जिसमें से 1569 प्रवासी कामगार संक्रमित हुए हैं. अब तक सूबे में कोरोना के चलते 161 लोग दुनिया को अलविदा कह चुके है जबकि राज्य में 3538 मरीज कोरोना को हरा कर हॉस्पिटल से अपने घर वापिस आ चुके हैं.