VIDEO: Zee न्यूज़ की रिपोर्टर को दिखावा पड़ा महँगा, वैक्सीन लगवाने के बाद तबीयत बिगड़ी

कैमरा पर Zee न्यूज़ की रिपोर्टर ने वैक्सीन लगवाई, 24 घंटों के बाद तबीयत ख़राब होने पर उन्हें हॉस्पिटल ले जाया गया है जहाँ उनकी हालत स्थिर बताई जा रही है.

इन दिनों टीवी पर जितनी खबरें कोरोना वायरस को लेकर चल रही हैं। उससे कहीं ज्यादा खबरें कोरोना की वैक्सीन को लेकर भी चल रही हैं। एक ओर जहां दुनिया भर के वैज्ञानिक लगातार कोरोना वैक्सीन तय्यर करने के रिसर्च में सफल हो रहे हैं वहीं लोगों में भी अब कोरोना की वैक्सीन की खुशी साफ दिखाई पड़ती है। लेकिन इन सबके बीच कुछ खबरें अभी भी चोंकाने वाली हैं। जिनसे ऐसा लग रहा है कि वैक्सीन मिलने के बाद भी खत’रा टला नहीं है।

हाल ही में भारत सरकार ने Covid- 19 की दो वैक्सीन को मंजूरी दे दी है। हाल ही में ड्र’ग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया ने Covid- 19 की दो वैक्सीन को मंजूरी दी है। जिसमें एक सिरम इंस्टीट्यूट ऑफ पुणे द्वारा निर्मित ऑक्सफोर्ड की कोरोना वैक्सीन कोविशील्ड तथा भारत द्वारा निर्मित स्वदेशी वैक्सीन कोवैक्सीन शामिल हैं।

ZEE NEWS

भारत सरकार ने कोरोना कि इन दोनों वैक्सीन को dry-run की मंजूरी दे दी है। लेकिन हाल ही में वैक्सीन को लेकर एक ऐसी खबर सामने आई है जिसके बाद वैक्सीन के होते हुए भी चिंता और बढ़ गयी है। हाल ही में भारत में उपयोग की जाने वाली कोरोना की वैक्सीन को लेकर बड़ी खबर सामने आई। ज़ी न्यूज़ की एक महिला रिपोर्टर पूजा मक्कड़ ने कोरोना की वैक्सीन लगवाई है।

वैक्सीन लगवाने के बाद बिगड़ी महिला पत्रकार की तबीयत

दरअसल ज़ी न्यूज़ की महिला पत्रकार पूजा मक्कड़ ने कोरोना की वैक्सीन का डोज इसलिए लगवाया था ताकि वे देश को बता सकें कि देश में उपयोग की जाने वाली वैक्सीन लोगों के लिए बिलकुल सेफ है। लेकिन हुआ बिल्कुल इसके विपरीत।

बता दें कि पूजा कोरोना कि वैक्सीन लगवाने वाली पहली महिला पत्रकार हैं। पूजा ने बीते सोमवार को भारत बायोटेक द्वारा निर्मित स्वदेशी वैक्सीन की एक डोज लगवाया था। लेकिन वैक्सीन लगवाने के 24 घंटे बाद ही पूजा की तबीयत बिगड़ने लगी. पूजा को एक दिन बाद ही बुखार आ गया और शरीर में तेज दर्द होने लगा।

पूजा ने वैक्सीन लगवाने के अगले दिन कहा था कि जिस जगह पर वैक्सीन लगाई गई है। वे वहाँ पर तेज़ दर्द महसूस कर रही हैं। यही नहीं अगले ही दिन उन्हें बुखार की भी शिकायत होने लगी।

अब कोरोना की वैक्सीन को मंजूरी दिए जाने पर सवाल उठ रहे हैं। वैक्सीन एक्सपर्ट्स की मानें तो कोरोना की इस वैक्सीन को जल्दबाजी में मंजूरी दी गई है ऐसे में वैक्सीन लेने वालों को जान का खतरा हो सकता है।

हालांकि पूजा की तबीयत बिगड़ने पर डॉक्टर कह रहे हैं कि यह एक अच्छा संकेत है यह बताता है कि वैक्सीन ने अपना काम करना शुरू कर दिया है। वहीं आपको यह भी बता दें कि कोरोना की वैक्सीन के इस्तेमाल के बाद तबीयत बिगड़ने की खबरें सिर्फ भारत से ही नहीं बल्कि दुनिया के कई देशों से सामने आ रही हैं।

हाल ही में मेक्सिको में फाइजर कंपनी की वैक्सीन लगवाने से एक महिला डॉक्टर की तबियत बिगड़ गई थी जिसके बाद उन्हें आईसीयू में लेना पड़ा था।